Showing posts with label China. Show all posts
Showing posts with label China. Show all posts

Monday, 24 July 2017

पहली बार चीनी सेना ने दी युद्ध की धमकी, कहा- हमारी सेना को हिला पाना मुश्किल

नई दिल्ली (एजेंसी)। डोकलाम सीमा विवाद को लेकर भारत और चीन के बीच चल रही तनातनी के बीच पहली बार चीन के रक्षा मंत्रालय ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता वी कियान ने धमकी भरे अंदाज में भारत को धमकाते हुए कहा है, 'समस्या का हल करने के लिए हमारी पहली शर्त है कि भारत पूरे बॉर्डर एरिया से तुरंत अपने सैनिकों को वापस बुलाए, पूरे क्षेत्र की शांति सीमावर्ती क्षेत्रों की शांति पर निर्भर करती है।' उन्होंने कहा कि 'पहाड़ को हिलाया जा सकता है, लेकिन चीनी सेना को नहीं हिलाया जा सकता।' 
आपको बता दें कि डोकलाम को लेकर भारत और चीन में काफी दिनो से तनाव जारी है। वैसे तो चीनी सरकार और वहां की सरकारी मीडिया की तरफ से आए दिन इस तरह की धमकी आती रहती है लेकिन यह पहली बार है कि चीनी सेना ने बयान जारी कर इस तरह की धमकी दी है। चीन की सेना के प्रवक्ता वू कियान ने कहा, ‘अपनी संप्रभुता की रक्षा करने के प्रति हमारा संकल्प कभी नहीं डिगने वाला है। हम हर कीमत पर अपनी संप्रभुता और सुरक्षा के हितों की रक्षा करेंगे। क्षेत्र के हालातों को देखते हुए चीन की सेना ने कदम उठाए हैं। हम हालात को देखते हुए सेना की तैनाती बढ़ाएंगे।’
कि़यान ने यह भी कहा कि इस घटना के जवाब में एक 'आपातकालीन प्रतिक्रिया' के तौर पर क्षेत्र में और अधिक चीनी सेना उतार सकती है। डोकलाम में सड़क निर्माण संबंधी कार्यों पर सफाई देते हुए कियान ने कहा, "जून के मध्य में, चीनी सेना ने एक सड़क के निर्माण की जिम्मेदारी ली थी। डोकलाम चीन का क्षेत्र है और चीन का अपने क्षेत्र में सड़क निर्माण करना एक सामान्य घटना है। यह एक वैध चीन की संप्रभुता की रक्षा करने संबंधी कार्य है।"
उन्होंने आगे कहा, "भारत द्वारा चीन के क्षेत्र में घुसना परस्पर मान्यता प्राप्त अंतरराष्ट्रीय सीमा का एक गंभीर उल्लंघन है और जो अंतरराष्ट्रीय कानून के विरूद्ध है। हम अपनी संप्रभुता की रक्षा करने के लिए किसी भी स्तर तक जा सकते हैं।'

Source:-Jagran
View more about our services:-Content dilevery network

Tuesday, 4 April 2017

Donald Trump predicts 'very difficult' summit with China's Xi Jinping

Washington: President Donald Trump today anticipated that his first summit with his Chinese partner Xi Jinping one week from now would be an "exceptionally troublesome" one as the US can no longer bear the cost of employment misfortunes and monstrous exchange shortages with the Communist exchanging mammoth.

This would be the initially meeting between the two pioneers in what many contend is the most essential reciprocal relationship on the planet.

"The meeting one week from now with China will be an extremely troublesome one in that we can no longer have enormous exchange shortfalls and employment misfortunes," Trump said.

Prior, White House Press Secretary Sean Spicer advised journalists that Trump anticipates meeting President Xi and trading sees on each other's individual needs and to graph a path forward for two-sided ties.

"They will talk about the issues of common concern, including North Korea, exchange, and local security," he said.  Read more:- Mobile Number Database Provider

Trump has said as of late that North Korea is one of the greatest security challenges he confronts as president and has approached China to get control over Pyongyang, which US authorities accept is get ready for another atomic test.

Source:- Zeenews

Taiwan to build 8 submarines under indigenous shipbuilding project

Taipei: Taiwan arrangements to manufacture eight submarines to reinforce its present armada of four maturing outside constructed vessels, a senior Taiwanese naval force official said on Wednesday.

Cheng Wen-lon, executive of state-controlled shipbuilder CSBC Corp Taiwan, which has been contracted to fabricate the submarines, likewise told officials that the underlying outline will be completely finished by mid 2018.

Military and guard industry authorities in Taiwan have said the main submarine is required to go into operation inside 10 years.

Lee`s remarks come in front of the initially meeting between pioneers of the United States and China this week that Taipei has worried could hurt its advantage.  Read more:- Mobile Number Database Provider

China respects fair Taiwan some portion of its region and has never denied the utilization of compel to take control of what it sees as a wayward region.

The United States is committed by U.S. law to help Taiwan shield itself, yet its arms deals to Taiwan infuriates Beijing and has backed off the pace of offers, barrier specialists said.

Taiwan and the United States, its sole arms provider, are right now occupied with crisp arms deals talks.

Source:- Zeenews